Designed Shayari

Wednesday, June 07, 2017

मेरी जुबां पे नए जायकों के फल लिख दे ..
ऐ मेरे खुदा तू मेरे नाम इक ग़ज़ल लिख दे..!!!
वो चाहता है यह दुनिया, मैं चाहता हूँ उसे ..
यह मसला बड़ा ही नाज़ुक़ है , कोई हल लिख दे ...!!!
मैं एक लम्हे में दुनियां समेट सकता हूँ ...
वो जब मिलेगा तन्हाई में , बस इक पल लिख दे..!!!
.....डा. बशीर् बद्र ....🌹🌹

You Might Also Like

0 blogger-facebook

loading...


Cpm Affiliation : the cpm advertising network

Free Earn By Champcash

Contact Us

Name

Email *

Message *

InstaGa